जिलाधिकारी को पाकर अपने द्वार, लखपति दीदी का सपना हुआ साकार

जिलाधिकारी अविनाश सिंह को विभिन्न माध्यमों से यह ज्ञात हुआ था कि विकास खण्ड जलालपुर के गौसपुर ककरहिया ग्राम की रीतादेवी के नेतृत्व में सरसवती आजीविका समूह की महिलाओं द्वारा समूह के सी०सी०एल० एवं सी०आई०एफ० की धनराशि से कपड़ों की सिलाई का कार्य सफलता पूर्वक प्रारम्भ करते हुए प्रतिदिन 5000 से अधिक के लोवर, टीशर्ट, बच्चों एवं महिलाओं के वस्त्र तैयार किये जा रहे है

फ़रवरी 23, 2024 - 16:23
फ़रवरी 23, 2024 - 17:39
 0  5
जिलाधिकारी को पाकर अपने द्वार, लखपति दीदी का सपना हुआ साकार
जिलाधिकारी को पाकर अपने द्वार, लखपति दीदी का सपना हुआ साकार

 23-02-2024. अंबेडकरनगर , जिलाधिकारी अविनाश सिंह को विभिन्न माध्यमों से यह ज्ञात हुआ था कि विकास खण्ड जलालपुर के गौसपुर ककरहिया ग्राम की रीतादेवी के नेतृत्व में सरसवती आजीविका समूह की महिलाओं द्वारा समूह के सी०सी०एल० एवं सी०आई०एफ० की धनराशि से कपड़ों की सिलाई का कार्य सफलता पूर्वक प्रारम्भ करते हुए प्रतिदिन 5000 से अधिक के लोवर, टीशर्ट, बच्चों एवं महिलाओं के वस्त्र तैयार किये जा रहे है।

जिलाधिकारी द्वारा उनका मनोबल बढ़ाने के लिए पूरे प्रशासनिक अमले के साथ रीता देवी के घर पहुँच गये। जहाँ समूह की महिलाएँ सिलाई का कार्य कर रही थीं। जिलाधिकारी को अपने बीच पाकर महिलाओं के आश्चर्य एवं हर्ष की सीमा न रही।जिलाधिकारी ने समूह की समस्त महिलाओं से सीधे वार्तालाप किया। समूह की महिलाओं द्वारा बताया गया कि मा० मुख्यमन्त्री जी एवं मा० प्रधानमन्त्री जी की विराट सोच का यह परिणाम है कि हम महिलाएँ भी स्वावलम्बी हो रही है।

जिलाधिकारी द्वारा महिलाओं के यह बताने पर कि स्थान एवं संसाधन कम होने के कारण अन्य महिलाओं को इससे जोड़ा नहीं जा पा रहा है। जिससे मॉग के सापेक्ष आपूर्ति कम है, जिलाधिकारी ने अर्थ एवं संख्याधिकारी को निर्देश दिये कि उपजिलाधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए क्रिटिकल फन्ड की धनराशि से यहाँ पर एक सिलाई सेन्टर कम बारात घर का निर्माण कराया जाय। इस बरात घर की आय को समूह की महिलाओं द्वारा इसके रख-रखाव में खर्च किया जायेगा। यह सुनते ही महिलाओं में हर्ष की लहर दौड़ गई। स्थानीय लोगों द्वारा बताया गया कि यह समूह लखपति दीदी के क्लब से मात्र 20 हजार रूपये की दूरी पर है।

जिलाधिकारी ने उपस्थित समस्त अधिकारियों से अपील की कि समूह से निर्मित 20 ट्रैक सूट का आर्डर दिया जाय एवं जिलाधिकारी द्वारा स्वयं इसका भुगतान यह कहते हुए दिया गया कि सारे अधिकारी अपने ट्रैक सूट की धनराशि उन्हें वापस कर देगें।इस पर महिलाओं समेत समस्त अधिकारी प्रसन्नचित दिखे।

जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमन्त्री जी के उत्तर प्रदेश की वन ट्रिलियल डालर इकोनोमी बनाने एवं मा० प्रधानमंत्री जी के पाँच ट्रिलियन डालर इकोनोमी बनाने के सपने को साकार करने हेतु विकास खण्ड जलालपुर के ग्रान-गौसपुर ककरहिया को समूह की महिलाओं द्वारा किया गया प्रयास सराहनीय है।जिलाधिकारी द्वारा ग्राम में सी०सी०रोड, नाली, सिलाई सेन्टर, बारातघर आदि का निर्माण कराने हेतु अधिकारियों को निर्देश दिये गये। जिलाधिकारी द्वारा ग्राम की महिलाओं द्वारा किये गये प्रयासों की सराहना की गयी, जिससे समूह की महिलाएँ सशक्त हो रही है एवं मिशन शक्ति के रूप में उभर कर सामने आ रही है।

इन महिलाओं को निजी विद्यालयों में ड्रेस आपूर्ति के लिए भी विद्यालयों के प्रबंधकों के साथ बैठक की जायेगी। इसी तरह विकास खण्ड भीटी की ग्राम पंचायत अढ़नपुर में भी बरातघर एवं सिलाई सेन्टर का शिलान्यास इसी सप्ताह मा० जनप्रतिनिधियाँ की उपस्थिति में कराते हुए मा० मुख्यमन्त्री जी की मन्शा के अनुरूप महिलाओं को आर्थिक रूप से संपन्न बनाया जाएगा । इस दौरान मौके पर उप जिलाधिकारी जलालपुर, उपायुक्त स्वत रोजगार,जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी, खंड विकास अधिकारी जलालपुर उपस्थित रहे।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow