आतंकवाद-रोधी और आतंकवाद-रोधी चुनौतियों पर भारत-जापान बैठक का आकलन

आतंकवाद निरोध पर भारत-जापान संयुक्त कार्य समूह की छठी बैठक

मई 31, 2024 - 16:38
 0  7
आतंकवाद-रोधी और आतंकवाद-रोधी चुनौतियों पर भारत-जापान बैठक का आकलन
आतंकवाद-रोधी और आतंकवाद-रोधी चुनौतियों पर भारत-जापान बैठक का आकलन

नई दिल्ली। आतंकवाद निरोध पर भारत-जापान संयुक्त कार्य समूह की छठी बैठक बुधवार को नई दिल्ली में हुई। इस दौरान दोनों पक्षों ने दोनों देशों के बीच चल रहे आतंकवाद विरोधी सहयोग पर चर्चा की। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार देर शाम एक प्रेस विज्ञप्ति में यह जानकारी दी।

इस बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व विदेश मंत्रालय में आतंकवाद-रोधी मामलों के संयुक्त सचिव के.डी. देवल ने किया तथा जापानी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व जापान सरकार के प्रतिनिधि हिरोयुकी मिनामि ने किया, जो जापान सरकार में आतंकवाद और अंतर्राष्ट्रीय संगठित अपराध से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के प्रभारी राजदूत हैं।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, इस दौरान दोनों पक्षों ने अपने-अपने क्षेत्रों में आतंकवादी खतरों पर विचारों का आदान-प्रदान किया, जिसमें दक्षिण एशिया, दक्षिण पूर्व एशिया, पूर्वी एशिया, मध्य पूर्व में राज्य प्रायोजित सीमा पार आतंकवाद के साथ-साथ अफगान-पाक क्षेत्र में आतंकवादी गतिविधियां शामिल थीं।

मंत्रालय ने कहा कि दोनों पक्षों ने आतंकवाद विरोधी चुनौतियों का आकलन किया, जिसमें आतंकवादियों द्वारा नई और उभरती हुई तकनीकों का उपयोग, आतंकवादी उद्देश्यों के लिए इंटरनेट का दुरुपयोग, कट्टरपंथ और आतंकवाद का वित्तपोषण शामिल है। आतंकवाद के वित्तपोषण, संगठित अपराध और नार्को-आतंकवादी नेटवर्क से निपटने पर भी चर्चा की गई।

बैठक में दोनों पक्षों ने सूचना साझाकरण, क्षमता निर्माण, प्रशिक्षण कार्यक्रमों और अभ्यासों तथा संयुक्त राष्ट्र, एफएटीएफ और क्वाड जैसे बहुपक्षीय मंचों पर सहयोग के माध्यम से आतंकवाद विरोधी सहयोग को मजबूत करने के महत्व पर जोर दिया। दोनों देशों के बीच आतंकवाद विरोधी 7वीं बैठक टोक्यो में आयोजित की जाएगी।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow